Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Weather

Haryana Weather: हरियाणा का रास्ता भूल पाकिस्तान पहुंचे बादल, अब दोबारा करेंगे धमाकेदार एंट्री

इस न्यूज़ को शेयर करे:

सोनीपत, Haryana Weather :- मौसम विभाग के पूर्वानुमान के बावजूद भी जिले में बारिश नहीं हुई है. हवाओं के बदले हुए रुख के कारण क्षेत्रवासियों को भीषण गर्मी और उमस के कारण भारी पसीने का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि अब मौसम विभाग के अनुसार 9 जुलाई की रात से 11 जुलाई तक अच्छी बारिश होने की संभावना है. इससे तापमान कम होने से पसीना- पसीना हो रहे लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिलने की आशंका जताई जा रही है.

हरियाणा के पंचकुला, अंबाला, यमुनानगर तक पहुंची नम हवाएं

मौसम विभाग ने 5 जुलाई से जिले व आसपास के क्षेत्रों में अच्छी वर्षा होने की आशंका जताई थी, किंतु अब मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि उत्तरी पाकिस्तान में अचानक से कम दबाव का क्षेत्र बन जाने के कारण हवाओं का रुख बदली हो गया है. उत्तरी पाकिस्तान में तापमान ज्यादा और नमी कम होने से हवाओं के दबाव का क्षेत्र बन गया है. यह राजस्थान के साइक्लोनिक एरिया से भी ज्यादा प्रभावी रहा है. ऐसे में अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से आने वाली नम हवाई पाकिस्तान की ओर प्रवेश कर गई और वहां पर जमकर बरसी हैं. वहीं बंगाल की खाड़ी से उत्तराखंड होकर आने वाली नम हवाएं हरियाणा के यमुनानगर, पंचकूला व अंबाला क्षेत्र तक ही पहुंच पायी है.

भीषण गर्मी ने किया बेहाल (Haryana Weather)

1 सप्ताह से जिले के लोगों को भीषण गर्मी का जबरदस्त सामना करना पड़ रहा है. तापमान ज्यादा रहने के साथ – साथ ही आद्रता भी ज्यादा है. जिसके कारण लोगों को उमस का सामना भी करना पड़ रहा है. इस कारण से सुबह से ही लोग पसीना पसीना होने लगते हैं. भीषण गर्मी में लोगो का घरों से बाहर निकल पाना भी मुश्किल हो गया है. इससे बाजार भी सून से पड़ गए हैं. 1जुलाई से जिले में मानसून भी सक्रिय हो चुका है. बावजूद इसके अब तक जिले व आसपास क्षेत्र के लोग अच्छी वर्षा की इच्छा लिए इंतजार कर रहे है.

10 व 11 जुलाई को भारी वर्षा का अनुमान

उत्तरी पाकिस्तान में बनने वाली हवा के कम दबाव का क्षेत्र, राजस्थान से ज्यादा शक्तिशाली रहा है. ऐसे में हरियाणा में बरसने वाली हवाए पाकिस्तान की ओर प्रवेश कर गई है. अब 9 जुलाई से दोबारा से कम दबाव का क्षेत्र बनता दिख रहा है. इससे 9 जुलाई की देर रात से 10 व 11 जुलाई को पूरे प्रदेश में भारी वर्षा होने का अनुमान लगाया जा रहा है. – डॉ. मदन खीचड़, विभागाध्यक्ष, कृषि मौसम विज्ञान विभाग, हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button