Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Sports

New ICC Rules: एक अक्तूबर से क्रिकेट के नियमो में बड़ा बदलाव, अब पिच से बाहर जाकर गेंद खेली तो नहीं मिलेंगे रन

इस न्यूज़ को शेयर करे:

नई दिल्ली :- अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की आज अहम Meeting हुई. इस बैठक मे कई अहम फैसले लिए गए, जिसके तहत कई नियमों में बदलाव किए जाएगे. बता दें कि इन नियमों की सिफारिश सौरव गांगुली की अगुवाई वाली पुरुष क्रिकेट समिति ने की. 1 October से पुरुष और महिला क्रिकेट में यह बदलाव लागू हो जाएंगे. अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में किसी भी बल्लेबाज के कैच आउट होने के बाद अगली गेंदबाज नए बल्लेबाज को ही खेलनी होंगी. वही इस मीटिंग के बाद सौरव गांगुली ने कहा कि पहली बार उन्हें ऐसा लगा कि ICC बैठक की अध्यक्षता करना सम्मान की बात है. साथ ही उन्होंने कहा कि वह समिति के सदस्यों के योगदान से काफी खुश है.

इन नियमों में किया गया बदलाव

  • अब कोई बल्लेबाज Catch Out होता है तो नया बल्लेबाज स्ट्राइक पर आएगा. भले ही बल्लेबाज कैच लेने से पहले एक दूसरे को पार हो गए हो. पहले यह नियम था कि कैच पकड़े जाने से पहले अगर बैट्समैन एक दूसरे को पार कर लेते थे तो दूसरे स्ट्राइक पर खड़ा बल्लेबाज स्ट्राइक पर आ जाता था और नया बल्लेबाज नॉन स्ट्राइक पर चला जाता था.
  • अब विकेट गिरने के बाद में बल्लेबाज को टेस्ट और वनडे मैचों में 2 मिनट के अंदर स्ट्राइक लेने के लिए तैयार होना होगा. वही टी-20 मैचों में इस नियम में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है, पहले नए बल्लेबाज को स्ट्राइक पर आने के लिए 3 मिनट का समय दिया जाता था.
  • गेंदबाज के गेंद फेंकने से ठीक पहले यदि फील्डर की तरफ से जानबूझकर कोई अनुचित हरकत की जाती है, तो अंपायर उस गेंद को डैड बोल देने के अलावा बल्लेबाजी करने वाली टीम को पेनल्टी के रूप में 5 रन भी दे सकते हैं.
  • यदि कोई गेंदबाज गेंद करने से पहले नॉन स्ट्राइक end पर खड़े बल्लेबाज की विकेट उड़ा देता है, तो उसे Run Out  माना जाएगा. इसे मोकडिंग के नाम से जाना जाता था और पहले इसे खेल की भावना से विपरित माना जाता था.
  • पहले बल्लेबाज गेंद खेलने से पहले ही क्रीज से बाहर आ जाते थे, तो गेंदबाज थ्रो करके उसे रन आउट कर सकते थे.  परंतु अब नियमों में बदलाव कर दिया गया है. ऐसा करने पर अब वह गेंद डेड बॉल करार दी जाएगी.
  •  वही T20 क्रिकेट में धीमी गति से ओवर करने पर भी जुर्माने का प्रावधान किया गया है. 2023 विश्व कप के बाद इसे वनडे में भी लागू कर दिया जाएगा. इन नए नियमों के तहत गेंदबाजी करने वाली Team को निश्चित समय के अंदर ही अपना Last ओवर शुरू करना होगा, यदि वह ऐसा नहीं कर पाती, तो समय सीमा के बाद जितने भी ओवर होते हैं. उसमें एक फील्डर बाउंड्री से हटाकर 30 गज के दायरे के अंदर रखना पड़ता है, जिससे बल्लेबाजों को काफी सहायता मिलती है. मौजूदा समय में यह नियम T20 क्रिकेट में ही लागू है और अगले साल इसे ODI में भी लागू कर दिया जाएगा.
  • सभी महिलाओं और पुरुषों के वनडे और टी-20 मैचों में दोनों टीमों की सहमति के बाद ही हाइब्रिड पिचों का उपयोग किया जा सकेगा. मौजूदा समय में केवल महिलाओं के T-20 Cricket के लिए हाइब्रिड पिचों का इस्तेमाल किया जाता है.
  • अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 2 साल से भी अधिक का समय हो चुका है, जब गेंद चमकाने के लिए लार के उपयोग पर प्रतिबंध लगाया गया था. तब कोरोना महामारी की वजह से ऐसा फैसला लिया गया था. अब इसे स्थाई रूप से लागू कर दिया गया.

Author Meenu Rajput

नमस्कार मेरा नाम मीनू राजपूत है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर बतौर कंटेंट राइटर काम करती हूँ. मैंने बीकॉम, ऍम कॉम तक़ पढ़ाई की है. मैं प्रतिदिन हरियाणा की सभी ब्रेकिंग न्यूज पाठकों तक पहुंचाती हूँ. मेरी हमेशा कोशिश रहती है कि मैं अपना काम अच्छी तरह से करू और आप लोगों तक सबसे पहले न्यूज़ पंहुचा सकूँ. जिससे आप लोगों को समय पर और सबसे पहले जानकारी मिल जाए. मेरा उद्देशय आप सभी तक Haryana News सबसे पहले पहुँचाना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button