Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Lifestyle

Science के अनुसार हर रोज नहाना है नुकसानदायक, Body का नेचुरल ऑयल हो जाता है खत्म

इस न्यूज़ को शेयर करे:

लाइफस्टाइल :- अगर आप 1 दिन भी नहीं नहाते हैं तो आपको अच्छी नजर से नहीं देखा जाता है. लेकिन Science की बात करें तो उसका कहना है कि रोज नहाकर आप अपनी सेहत को नुकसान पहुंचा रहे हैं. ज्यादातर भारत के लोग दुनिया में सबसे ज्यादा नहाने वाले लोगों में शुमार किए जाते हैं. अगर आप धार्मिक मान्यताओं की बात करें तो भारत के लोग तकरीबन रोज रोज नहाते हैं. क्योंकि उन्हें लगता है कि ऐसा करके उनका तन और मन ताजगी से भर उठते हैं, बल्कि ऐसा करके वह अपने शरीर को पवित्र भी कर लेते हैं. भारत में सुबह पूजा-पाठ हमेशा नहा कर ही की जाती है.

साइंस के अनुसार प्रतिदिन नहाना है गलत

साइंस का कहना है कि अगर आप रोज नहाते हैं तो आप अपना नुकसान कर रहे हैं. साथ ही आप अपनी प्रतिरोधक क्षमता को भी कम कर रहे हैं. स्किन स्पेशलिस्ट मानते हैं कि अगर ठंड में रोज नहीं नहा रहे हैं तो अच्छा ही कर रहे हैं. जरूरत से ज्यादा नहाने से हमारी त्वचा को बहुत नुकसान होता है. वैसे गर्मियों में रोजाना नहाना सभी को अच्छा लगता है, लेकिन सर्दियों में बात किसी चुनौती से कम नहीं होता है. कई स्टडीज में साबित हो चुका है कि स्किन में खुद को साफ करने की बेहतर क्षमता होती है. अगर आपने जिम को ज्वाइन नहीं कर रखा है और रोज पसीना नहीं बहाते हैं धूल मिट्टी में नहीं रहते हैं तो आपको रोज नहाने की जरूरत नहीं होती है.

सर्दियों में ज्यादा गर्म पानी से नहाना कर सकता है नुकसान

अगर आप भी सर्दियों में प्रतिदिन ज्यादा गर्म पानी से देर तक नाते हैं तो यह फायदे से ज्यादा आप को नुकसान पहुंचाने वाला है. इससे Skin Dry हो जाती है. इससे आपका शरीर का नेचुरल ऑयल खत्म हो जाता है. शरीर का यह नेचुरल ऑयल हम सबके लिए बहुत जरूरी है. यह प्रतिरोधक क्षमता का भी काम करता है. साइंस के अनुसार यह ऑयल आपको हमेशा Moisturized और सुरक्षित रखने में आपकी सहायता करता है. Natural oil खत्म होने से शरीर के गुड बैक्टीरिया भी हट जाते हैं. ये बैक्टीरिया इम्यूनिटी सिस्टम को भी सपोर्ट करते हैं. इसलिए सर्दियों में हफ्ते में दो या तीन दिन ही नहाना चाहिए.

हर रोज नहाने से खत्म हो जाते हैं शरीर के बैक्टीरिया

अमेरिकी विश्वविद्यालय यूनिवर्सिटी ऑफ के जेनेटिक्स साइंस सेंटर के एक अध्ययन के अनुसार ज्यादा नहाना हमारे मानव शरीर के सुरक्षा तंत्र को नुकसान पहुंचाता है. रोगाणुओं- विषाणु से लड़ने वाली क्षमताओं को कमजोर करता है. खाना पचाने और उससे विटामिन व अन्य पोषक तत्वों को अलग करने की क्षमता भी रोजाना नहाने से प्रभावित होती है.

प्रतिदिन नहाने से नाखून को भी पहुंचता है नुकसान

अगर आप हर रोज गर्म पानी से नहाते हैं तो इससे आपके नाखूनों को भी नुकसान पहुंचता है. नहाते वक्त आपके नाखून पानी अवशोषित कर लेते हैं, फिर सॉफ्ट होकर टूट जाते हैं. इससे भी नेचुरल Oil निकल जाता है, जिससे आपके नाखून रुखे और कमजोर हो जाते हैं. कोलंबिया के एक विशेषज्ञ डॉक्टर का कहना है कि रोजाना नहाने से स्किन रुखी और कमजोर पड़ जाती है. इससे संक्रमण का खतरा बहुत तेजी से बढ़ता है. इसलिए रोज नहीं नहाना चाहिए.

नहाना कई पहलू पर तय करता है

नहाने की आदत इंसान के Mood, तापमान, जलवायु, लिंग व सामाजिक दबाव पर ज्यादा निर्भर करती है. भारत में प्रतिदिन नहाना एक धर्म के अंदर आता है और इसके अलावा एक बड़ा कारण यह भी है कि यहां पानी उपलब्ध है. लेकिन यह बात भी सही है कि भारत में कई बार नहाने की वजह सामाजिक दबाव भी होता है.

भारत नहाने में है सबसे आगे

एक सर्वे से पता लगा है कि नहाने के मामले में दुनिया में शीर्ष देशों में भारत, जापान और इंडोनेशिया के लोग आगे हैं. अमेरिका व पश्चिमी के देशों के कई शोधों में यह साबित होता है कि रोजाना नहाना से न केवल पानी की बर्बादी है बल्कि इससे हमारा शरीर और मानसिक तौर पर भी नुकसान होता है.

Vandna Gupta

नमस्कार मेरा नाम वंदना गुप्ता है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रही हूं. इससे पहले मैंने दिल्ली हलचल पर बतौर कंटेंट राइटर काम किया हुआ है. मैंने कॉमर्स में मास्टर डिग्री की है. मेरा उद्देश्य है कि गैजेट और फाइनेंस की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करती हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button