Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Khabri Express Special

Special: ये है हरियाणा का सबसे बड़ा गांव, 700 साल से भी पुराना है गांव का इतिहास

इस न्यूज़ को शेयर करे:

हिसार :- हमारे भारत देश में बहुत- सी खूबियां है, वो एक लोकतांत्रिक और गणतांत्रिक देश है. साथ ही वो शहरों के लोगों को गांव के लोगों के साथ जोड़कर रखता है. ये बात सभी जानते है कि शहरों के लोग अनाज के लिए गांव के लोगों पर निर्भर है, क्योंकि गांव के लोग खेती करते है, तब वो अनाज घरेलू बाजारों में बेचते है, और फिर वो शहरों की सभी दुकानों में मिलता है. तो वहीं यदि शहर के लोग रोजगार ना करें तो गांव के लोगों को भी परेशानी होती है. देखा जाए तो दोनों ही एक- दूसरे पर निर्भर है. शहर में बढ़ते प्रदूषण की वजह से भी लोग गांव में सुकून ढूंढ़ते है. ऐसे में हरियाणा में एक सबसे बड़ा गांव है, जहां सबसे ज्यादा आबादी है.

ये है हरियाणा का सबसे बड़ा गांव

लोग आजकल महंगाई से बहुत परेशान हो गए है. मंहगाई के दौर में वो बस राहत भरी सांस चाहते है. ऐसे में जब महंगाई अपनी जड़ पकड़ लेती है, तो गांव की तरफ ही देखना पड़ता है. हरियाणा में एक सबसे पुराना और बड़ा गांव है, जो करीबन 700 साल पुराना है. ये हिसार जिले में स्थित सिसाय गांव है. अगर इसकी Location की बात करें तो यह गांव हिसार से 36 Km और हांसी से 10 Km की दूरी पर स्थित है.

History Of Sisay Village

इस गांव का इतिहास भी बेहद दिलचस्प है, सिसाय गांव में रहने वाले लोग गांव के बारे में अलग-अलग कहानियां सुनाते हैं. कहा जाता है कि इस गांव में वर्ष 1945 में एक मिडिल school चलाया गया था, जिसे वर्ष 1990 में Update कर सीनियर सेकेंडरी बनाया गया. ग्रामीणों द्वारा बताया जाता है कि सिसाय गांव का 700 वर्ष पुराना इतिहास है. इसका तात्पर्य ये है कि इस गांव में लोगों की सात पीढ़ियां यहां से चली गई हैं.

शहरों से है बराबरी

सिसाय गांव में सरकारी सुविधाओं की कोई कमी नहीं है. गांव में सरकारी स्कूल की सुविधा उपलब्ध है. वहीं स्वास्थ्य के स्तर पर भी सिसाय गांव पीछे नहीं रहा है, गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र है. सिसाय गांव ने शहरों से बराबरी कर, वहां के लोगों का सर गर्व से ऊंचा कर दिया है.

सिसाय गांव की जनसंख्या

वहीं अगर हम सिसाय गांव की जनसंख्या की बात करें, तो अभी 2022 में Survey ना होने के कारण गांव की जनसंख्या का पता लगाना मुश्किल है. परंतु 2011 में किए गए Survey के अनुसार सिसाय गांव को 2 भागों में बांटा गया था. 2011 की जनगणना के मुताबिक गांव में लगभग 1321 परिवार रहते हैं. 1321 घरों में 7000 लोग रहते हैं, जिनमें से पुरुषों की संख्या 3700 के आसपास वहीं महिलाओं की संख्या 3300 के आसपास है. दरहसल बात ये है सिसाय गांव की जनसंख्या इतनी अधिक है कि उसका एक साथ Survey कर पाना मुश्किल है.

Jyoti Pandey

मेरा नाम ज्योति पांडेय है. मैं Khabri Express पर बतौर कंटेंट राइटर काम करती हूं. मैं हिंदी पत्रकारिता की 3rd Year दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा हूं. मैंने कंटेंट राइटर का काम विभिन्न वेबसाइट पर किया है, जैसे - हरियाणा प्रेस, नव जगत , ड्रीम न्यूज 24. साथ ही मैने इंडिया न्यूज में इंटर्नशिप भी की है. मुझमें सबसे बड़ी खूबी है, मैं सीखने के लिए हमेशा अग्रसर रहती हूं. मैं अपने काम को लेकर ईमानदार और समयनिष्ठ हूं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button