Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Khabri Express Special

दिल्‍ली से सटे खास है ये हरियाणा के धार्मिंक स्‍थल, श्रीकृष्‍ण और महाभारत से रहा है गहरा लगाव

इस न्यूज़ को शेयर करे:

कुरुक्षेत्र :- कुरुक्षेत्र पर्यटन स्थल भारत के हरियाणा राज्य में स्थित एक प्रसिद्ध स्थल है. कुरुक्षेत्र वही भूमि है जहां पर भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को गीता का उपदेश दिया था. कौरवों और पांडवों के बीच हस्तिनापुर के राज्य सिंहासन के लिए लड़े जाने वाली लड़ाई इसी स्थान पर लड़ी गयी थी, जिसे महाभारत के युद्ध के नाम से भी जाना जाता है. कुरुक्षेत्र की ये लड़ाई धर्म की स्थापना के लिए लड़ी गयी थी, जिसमें भगवान श्री कृष्ण ने धर्म का पक्ष लेते हुए पांडवों की तरफ से भाग लिया था.

महाभारत के युद्ध में पूरे भारतवर्ष के राजा महाराजाओं के अलावा विदेशी सल्तनत से भी वीरों ने भाग लिया था. इस स्थान को ब्रह्मा देवी, उत्तरा देवी और धर्म चक्र जैसे कई नामों से भी जाना जाता है.

क्या है कुरुक्षेत्र का इतिहास

आपको बता दें कि कुरुक्षेत्र का इतिहास बहुत प्राचीन है और कुरुक्षेत्र का नाम राजा कुरु के नाम पर रखा गया था, जो कि महाभारत में पांडवों और कौरवों के पूर्वज थे. वामन पुराण के अनुसार कुरुक्षेत्र का चयन सरस्वती नदी के तट पर 8 गुणों के साथ धर्म शास्त्र को बताने के लिए किया था. जो कि सत्य, दया, यज्ञ, तपस्या, क्षमा, ब्रह्मचार्य, दान और पवित्रता हैं. राजा कुरु की दृढ़ निश्चय और भक्ति से प्रसन्न होकर भगवान विष्णु ने उन्हें दो वरदान दिए. पहला वरदान है ये था की ये स्थान उनके नाम से जाना जाएगा और यह एक पवित्र भूमि के नाम से प्रसिद्ध होगा. दूसरा वरदान के फलस्वरुप कुरुक्षेत्र में किसी की भी मृत्यु होने पर उसे सवर्ग की प्राप्ति होगी.

कुरुक्षेत्र घूमने का सही समय

कुरुक्षेत्र के दर्शन के लिए सितंबर से मार्च के महीने की अवधि सबसे आदर्श मानी जाती है, क्योंकि इस समय के दौरान मौसम ठंडा रहता है, जिससे पर्यटकों को कुरुक्षेत्र और इसके पर्यटन स्थलों की यात्रा करने में किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होती.

कुरुक्षेत्र में रुकने का स्थान

कुरुक्षेत्र की यात्रा पर आने वाले पर्यटक अगर किसी आवास की तलाश में है तो मैं आपको बता दू कुरुक्षेत्र मे लो बजट से लेकर हाई बजट के कई होटल उपलब्ध है. होटल का चुनाव आप अपनी आवश्यकतानुसार कर सकते हैं, जैसे कि होटल मेज़बान रीजेंसी, होटल पर्ल मार्क, होटल किमाया, आर के रियासत रिज़ॉर्ट, डिवाइन क्लार्क्स इन सूट मौजूद है.

खाने के लिए स्थानीय भोजन

कुरुक्षेत्र समृद्ध और विस्तृत हरियाणवी भोजन के लिए जाना जाता है. यहां के भोजन में मुख्य रूप से बाजरे और मकई की रोटी प्रसिद्ध है. इनके साथ-साथ अन्य व्यंजनों में सिंगरी की सब्जी, दाल दलिया, कढ़ी पकोड़े और विशिष्ट उत्तर भारतीय भोजन भी मिलते हैं. कुरुक्षेत्र के अन्य प्रसिद्ध भोजन में स्वादिष्ट खीर, मालपुए, चूरमा और आलू की रोटी, दाल मखनी, पनीर, अमृतसरी कुल्चा, चना भटूरा, राजमा और बहुत कुछ शामिल है.

कुरुक्षेत्र कैसे जाएं

कुरुक्षेत्र की यात्रा के लिए पर्यटक फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी एक का चुनाव कर सकते हैं.

फ्लाइट से कुरुक्षेत्र कैसे जाएं

कुरुक्षेत्र की यात्रा के लिए अगर आपने हवाई यात्रा का चुनाव किया तो हम आपको बता दें कुरुक्षेत्र पहुंचने के लिए सबसे निकटतम हवाई अड्डा चंडीगढ़ और दिल्ली है. जो कि क्रमशः लगभग 86 किलोमीटर और 175 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. एयरपोर्ट से बस या टैक्सी की मदद से आप कुरुक्षेत्र पहुंच जाएंगे.

बस से पहुंचने का स्थान

कुरुक्षेत्र सड़क मार्ग के माध्यम से चंडीगढ़, पटियाला, अमृतसर, दिल्ली, पानीपत जैसी प्रमुख शहरों से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है, इसलिए कुरुक्षेत्र जाने के लिए बस या टैक्सी भी एक अच्छा साधन है.

कुरुक्षेत्र के दर्शनीय और पर्यटन स्थल

कुरुक्षेत्र एक पवित्र भूमि है, जो कि भारत वर्ष के इतिहास से जुड़ी है. इस स्थान में कई कहानियां जुड़ी हुई है और वेदों में इसका उल्लेख भी किया गया है. रास्ते में कहानियों और लोक कथाओं से संबंधित कुरुक्षेत्र हिंदू धर्म के लोगों के लिए धार्मिक महत्व के स्थानों में से एक है. महाभारत से संबंधित कुरुक्षेत्र के दर्शनीय स्थलों में से कई जगह ऐसी है, जिन की यात्रा करके आप एक अलग ही अनुभव प्राप्त करेंगे.

दर्शनीय और पर्यटन स्थल

ब्रह्मसरोवर झील, ज्योतिसर, भीष्म कुंड, स्थानेश्वर महादेव मन्दिर, शेख चिल्ली का मकबरा, राजा हर्ष का टीला, भद्रकाली मंदिर, पैनोरमा और विज्ञान केंद्र, श्रीकृष्ण संग्रहालय, सरस्वती वाइल्ड लाइफ सेंचुरी, चिल्ला चिल्ला वाइल्ड लाइफ सेंचुरी, श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर और राजा कर्ण का किला आदि है.

Sunny Singh

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं खबरी एक्सप्रेस वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने ABP न्यूज़ में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं खबरी एक्सप्रेस पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button