Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Indian Train

रेल कनेक्टिविटी का हब बनेगा पलवल का औद्योगिक क्षेत्र, जुड़ेगा दिल्ली-मुंबई फ्रेट कारिडोर

इस न्यूज़ को शेयर करे:

पलवल :- वर्तमान समय में संसद का मानसून सत्र चल रहा है, इस सत्र के दौरान सरकार के द्वारा कई विकासशील महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं. वहीं इस सत्र के दौरान निर्णय लिया गया कि पलवल के नजदीक स्थित पृथला औद्योगिक क्षेत्र को NCR में रेल Connectivity का हब बनाया जाएगा. बेहतर रेल कनेक्टिविटी होने से पृथला औद्योगिक इकाइयों को इसका सीधा- सीधा लाभ मिलेगा.

रेल मंत्रालय ने दी मंजूरी

बता दे कि दिल्ली- मुंबई रेल फ्रेट कॉरिडोर को पृथला में पलवल से जोड़ने के प्रस्ताव को रेल मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है. इस तरह 3.5 किलोमीटर लंबी इस रेल लाइन से पृथला के जुड़ाव होने से यह फ्रेट कॉरिडोर सामान्य रेल लाइन का हिस्सा बन जाएगा. इसके अलावा 121 किलोमीटर लंबी दूरी की दोहरी रेल लाइन जो कुंडली- मानेसर- पलवल (KMP) तक बनेगी इसका जुड़ाव भी सीधे पलवल Railway Station से किया जाएगा.

फरीदाबाद और पृथला औद्योगिक इकाइयां होंगी विकसित 

दिल्ली मुंबई रेल फ्रेट कॉरिडोर का जुड़ाव पृथला से पलवल तक होने के कारण फरीदाबाद और पृथला दोनों औद्योगिक इकाइयों का तेजी से विकास होगा. पृथला औद्योगिक संघ के संरक्षक हरदीप महाजन ने जानकारी देते हुए कहा कि KMP और KGP के निर्माण के बाद दिल्ली- वडोदरा- मुंबई Expressway के चलते यह क्षेत्र अब सड़क कनेक्टिविटी के क्षेत्र में भी प्रथम स्थान पर रहा है.

HRIDC ने तैयार किया प्रस्ताव

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस सत्र के दौरान राज्यसभा के सदस्य दीपेंद्र हुड्डा द्वारा पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए बताया कि रेल मंत्रालय और हरियाणा रेल अवसरंचना विकास कॉरपोरेशन लिमिटेड (HRIDC) के द्वारा इन परियोजनाओं का निर्माण कार्य किया जाएगा. यमुनानगर और करनाल के बीच 65 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछाने के लिए भी HRIDC ने प्रस्ताव तैयार कर लिया है.

Author Shweta Devi

मेरा नाम श्वेता है. मैं हरियाणा के भिवानी जिले की निवासी हूं. मैंने D.Ed और स्नातक तक की पढ़ाई पूरी कर ली है. वर्तमान में मै Khabri Express पर बतौर लेखक के रूप में कार्य कर रही हूं. मै सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीम, एजुकेशन और लाइफ स्टाइल से जुड़े विभिन्न कंटेंट जितनी जल्द हो सके पाठको तक पहुंचाने की कोशिश करती हूँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button