Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Haryana News

पूरे भारत मे हरियाणा रोडवेज बस क्यों है प्रसिद्ध, स्पीड से लेकर लुक में है सबसे आगे

इस न्यूज़ को शेयर करे:

चंडीगढ़ :- यूं तो परिवहन विभाग हर ही जगह सुचारू रूप से कार्य कर रहा है और अपना बेस्ट देने का ट्राई कर रहा है, पर हरियाणा रोडवेज में दौड़ने वाली बसों ने अपनी जगह सीधा लोगों के दिलों में बना रखी है. ना केवल आस- पास के राज्यों को पीछे कर बल्कि पूरे भारत देश में सबसे No.1 बसों का काम कर रही है. आखिर क्या है ऐसा खास इन बसों में जो लोगों के दिल को छू जाती है. आइए आज जानें क्या है राज इन बसों का….

सोशल मीडिया पर छाये कंडक्टर धर्मवीर

हरियाणा रोडवेज की बसों में सुविधाओं को कोई कमी नहीं है और पैसेंजर्स को पूर्ण रूप से बसों में सम्मान मिलता है. ऐसे में आप एक बीती बात को भी मद्देनजर रखते हुए समझ सकते हो कि क्यों है हरियाणा रोडवेज बसें सबसे No.1. वैसे तो ये खबर सब ने सुनी ही होगी. सोशल Media पर एक खबर वायरल हुई थी जिसमे रोहतक जिले के ग्राम रिठाल निवासी Haryana Roadways के एक Conductor धर्मबीर ने मानवता का अच्छा उदाहरण पेश किया था. धर्मवीर Sonipat डिपो में कार्यरत है. धर्मबीर को सोनीपत से दिल्ली चंडीगढ़ डीपो के लिए तैनात किया गया था. जिस भी बस में धर्मवीर की ड्यूटी लगती वह अपने साथ पानी से भरा कैंपर रखते व एक गिलास और ट्रे की सहायता से यात्रियों को ठंडा पानी पिलाते थे. यात्रियों को गर्मी से छुटकारा देने के लिए धर्मवीर ने यह कदम उठाया था. हर और उनके इस कार्य की तारीफ भी हुई थी.

महिलाओं को Free बस सुविधा देने का लिया था फैसला

बीते दिनों में Haryana Roadways Buses में सुविधाओं की कोई कमी नहीं की बल्कि अभी भी परिवहन विभाग अपनी ड्यूटी पर कार्यरत है. बीते दिनों में रक्षाबंधन के दौरान राज्य सरकार की ओर से महिलाओं को एक बड़ा तोहफा दिया गया है. जिसमें महिलाओं को रोडवेज बसों में Free यात्रा की सुविधा दी गई. परिवहन की बसों में महिलाओं के लिए कोई किराया नहीं था. इससे महिलाओं को काफी सहूलियत मिली. यह सुविधा 10 अगस्त दोपहर 12 बजे से शुरू होकर 11 अगस्त दोपहर 12 बजे तक उपलब्ध थी. यह सुविधा 36 घंटे के लिए लागू हुई थी. सरकार की इस सुविधा का लाभ उठाकर अधिक से अधिक महिलाएं अपने भाइयों के घर जाकर रक्षाबंधन का पर्व मनाया था.

बुजुर्गों को दिया सम्मान

हरियाणा रोडवेज की बसों में सफर कर रहे वरिष्ठ नागरिकों के लिए भी उनके सम्मान का कोई मौका नहीं छोड़ा. बीते दिनों में हरियाणा सरकार के समाज कल्याण विभाग ने ये फैसला लिया गया था कि बुजुर्गों को बस किराए में छूट के लिए वरिष्ठ नागरिक पहचान पत्र की आवश्यकता को समाप्त किया जाएगा. ऐसे वरिष्ठ नागरिकों के लिए यात्रा के लिए महिलाओं के लिए 60 वर्ष और पुरुषों के लिए 65 वर्ष की आयु निर्धारित की थी. इस आयु सीमा के बाद उन्हें किराए में 50 प्रतिशत की छूट मिलेगी.

लुक में सबसे आगे….

परिवहन विभाग ने चंडीगढ़ रूट पर Long Route पर चलने वाली बसों में यात्रियों की थकान दूर करने और उन्हें Comfort देने के लिए काफी हद तक फायदे देने का फैसला लिया था. वहीं, सुरक्षा कारणों से बसों में जीपीएस सिस्टम लगाया गया और यात्रियों को बसों में संगीत की सुविधा देने का फैसला लिया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button