Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Sonipat News

गोहाना में आफत बन आई तेज आंधी और बारिश, सब्जी मंडी के दो शेड गिरने से दो लोगों की मौत 17 घायल

इस न्यूज़ को शेयर करे:

गोहाना:- सोनीपत जिले के (गोहाना) में मौसम में बदलाव होते ही तेज बारिश हुई. कई दिनों के बाद हुई बारिश से जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली है तो वहीं दूसरी ओर तेज बरसात ने जमकर तबाही भी मचाई है. बेहिसाब हुई बारिश के चलते सब्जी मंडी में  सेड गिर गया. इसके चलते एक माशाखोर की मौत हो गई है. अभी भी यहां पर कई लोगों के फंसे होने की संभावना है. इसलिए बचाव कार्य लगातार जारी है.

तेज तूफान और बरसात के सामने धराशायी हुए 2 बड़े शे

गुरुवार शाम साढ़े चार बजे गोहाना में बारिश के साथ तेज आंधी आई। बारिश से बचने के लिए करीब 100 लोग सब्जी मंडी में बने शेडों के नीचे जाकर खड़े हो गए। इनमें सब्जी विक्रेता (मासाखोर) और ग्राहक थे। आंधी की वजह से सब्जी मंडी के दोनों शेड अचानक गिर गए, जिससे उनके नीचे दबने से गोहाना के देवीपुरा निवासी सब्जी विक्रेता जगमहेंद्र और गांव रभड़ा से सब्जी लेने आए संदीप की मौत हो गई।

हादसे में बिहार के लक्ष्मी कुमार, शिवनाथ, बिहार के बेगुसराय के शिव, बस्तर जिले के सतीश, गोहाना के सिवानका गांव के प्रिंस, इंद्र गढ़ी कॉलोनी निवासी पवन, गांव पूठी निवासी कर्मवीर, गांव शामड़ी निवासी दिनेश, गांव बड़ौता निवासी जगदीश व गुरुवंश, गांव गढ़ी सराय नामदार खां निवासी सुरजीत व हरीश, गांव नगर निवासी राजपाल, महमूदपुर निवासी सुरेश, रोहतक के मुकेश और एक अन्य व्यक्ति घायल हो गए। शिव कुमार, पवन और एक अज्ञात व्यक्ति की हालत गंभीर बनी हुई है।

सीएम मनोहर लाल ने जताया दुख, मृतकों के परिजनों को 5 लाख की सहायता की घोषणा

गोहाना की घटना पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दुख जताया है, उन्होंने कहा कि आंधी के कारण गोहाना की नई सब्जी मंडी का शेड गिरने की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में जानमाल की क्षति दुखदायी है। दुर्घटना में दिवंगत लोगों के परिजनों को 5 लाख रुपये की सहायता दी जाएगी।

अचानक भरभरा कर गिर गया शेड, मची अफरा-तफरी

सब्जी मंडी में वीरवार शाम बारिश के साथ आई आंधी ने खूब कहर बरपाया। बारिश से पहले अन्य दिनों की तरह लोग सब्जी मंडी में खरीदारी कर रहे थे। लेकिन कुछ देर बाद ही ऐसा नजर बना किया हर तरफ हड़कंप मच गया। लोगों में अफरा-तफरी मच गई। लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे। बारिश और आंधी के साथ बने बवंडर जैसे हालात में 100 मीटर लंबाई और इतनी ही चौड़ाई के शेडों को गिरा दिया। बुलडोजर के साथ क्रेन मंगवाई गई। हालांकि शेड के नीचे दबने से दो लोगों की मौत के साथ करीब 17 लोग घायल हो चुके थे।

Author Romiyo

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम रोमियो परमार है. मैं खबरी एक्सप्रेस पर 2022 से बतौर कंटेंट राइटर का काम कर रही हूँ. मैंने बी.ए, एम.ए तक पढ़ाई की है. मैं सभी पाठकों तक लाइफस्टाइल से जुड़ी हुई खबरें पहुंचाती हूँ. आप तक हर खबर सही और सबसे पहले पहुंचे यही मेरा सर्वोत्तम उद्देशय है. मैं अपनी पूरी लगन और मेहनत से आप तक हर खबर पहुंचने में तत्पर हूँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button