Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Rohtak NewsPolitics

Haryana Panchayat Election : हरियाणा में दो चरणों में होंगे पंचायत चुनाव, आयोग ने सभी डीसी को पत्र भेजा

इस न्यूज़ को शेयर करे:

रोहतक,Haryana Panchayat Election :- पंचायती राज अधिनियम-1995 के अनुसार राज्य में छठी बार चुनाव होने जा रहे हैं. अब तक हुए सभी इलेक्शन में पंच-सरपंच, पंचायत समिति और जिला परिषद के लिए एक ही दिन मतदान करवाया गया है. यानि अभी तक एक मतदाता द्वारा एक ही दिन में चार वोट डाले गए थे. परंतु इस बार पंच-सरपंच, पंचायत समिति-जिला परिषद के लिए अलग-अलग दिनों में भी वोट डाले जा सकते हैं. इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग निरंतर तैयारियों में लगा हुआ है. गत दिनों आयोग द्वारा प्रदेश के सभी उपायुक्त को पत्र भेज दिया गया है. जिसमें बताया गया कि इस बार पंच-सरपंच, पंचायत समिति- जिला परिषद के लिए अलग-अलग दिनों में भी वोट डाले जा सकते हैं.

मतदान को लेकर कोई गड़बड़ी हुई तो दोबारा वोटिंग

पंच-सरपंच के लिए एक ही दिन मतदान करवाए जाने की संभावना है, क्योंकि पंचायत के लिए मतदान पूरा होने के तुरंत बाद ही पोलिंग स्टेशन पर ही वाेटों की गिनती करवाई जाती है. मतदान के दिन ही देर शाम तक परिणाम को घोषित करके चुनाव सामग्री को रात तक जिला मुख्यालय पर जमा करवा दिया जाता है. जबकि पंचायत समिति और जिला परिषद के वोटों की गिनती मतदान के ही दिन नहीं करवाई जाती है. मतदान और मतगणना के बीच में दो-तीन दिन का समय अंतराल रखा जाता है. यह इसलिए करवाया जाता है कि कहीं भी मतदान से लेकर कोई गड़बड़ी हो तो दोबारा से वोटिंग करवाई जा सके.

चुनाव में हो रही है 17 महीने की देरी

चुनाव में 17 महीने की देरी हो रही है. चुनाव कब किए जाएंगे, इसके लिए अभी तक पूरी तरह से असमंजस है क्योंकि 22 जुलाई को मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन होना बाकी है. उसके बाद ही निर्वाचन आयोग द्वारा निर्णय लिया जाना है कि चुनाव कब करवाए जाएं. अभी तक चुनाव में 17 महीने का विलंब हो चुका है.

मतदान करवाने में कम मैनपॉवर की जरूरत पड़ेगी

बताया जा रहा है कि अलग-अलग दिन मतदान करवाने से कम कर्मचारियों से भी काम चलाया जा सकता है. जिससे की राज्य निर्वाचन आयोग का चुनावी खर्च भी कम होने की जानकारी पंचायत विभाग द्वारा दी जा रही है. बताया जा रहा है कि अलग-अलग दिन मतदान करवाने पर संख्या के हिसाब से आधे कर्मचारी ही मतदान की प्रक्रिया संपन्न करवा देंगे. मतदान के लिए आयोग ने कई हिदायतें भी जारी की हैं. जिनके अनुसार चुनाव में कितने कर्मचारियों की आवश्यकता पड़ सकती है, इसका अनुमान लगाने और इलेक्शन ड्यूटी में अनुभवी अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने के बारे में कहा है.

अलग अलग होंगें चुनाव

बता दें कि पिछले दिनों आयोग की तरफ से एक पत्र प्राप्त हुआ है, जिसमें कहा गया है कि इस बार पंच-सरपंच के एक दिन और पंचायत समिति और जिला परिषद के लिए अलग दिन मतदान करवाया जा सकता है.– जितेंद्र लाठर, सहायक, जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत, रोहतक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button