Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Haryana NewsCrime

हरियाणा पुलिस का नया कारनामा, बिना जाँच के झूठी शिकायत पर दर्ज किया रैप केस

इस न्यूज़ को शेयर करे:

कैथल :- रोजमर्रा की ज़िंदगी में देखा जाए तो आम नागरिक को पुलिस में FIR दर्ज करवाने के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ती है तब भी उनके मामले दर्ज नहीं होते, वहीं कैथल जिले की पूंडरी पुलिस का अलग ही कारनामा देखने को मिला है. जहां किसी महिला के नाम पर भेजी गई फर्जी शिकायत को बिना जांच परख के ही दर्ज कर लिया और एक व्यक्ति पर दुष्कर्म तथा जान से मारने की धमकी का मामला दर्ज कर लिया. दर्ज किये गए केस में 25 वर्षीय युवती के आरोप हैं कि गांव बालू के गुरदेव ने घर में घुसकर उसके साथ दुष्कर्म किया और जान से मारने की धमकी दी. युवती के नाम से थाने में रेप की शिकायत भी गई है. पुलिस ने भी बिना तथ्यों के जांचे परखे ही जल्दबाज़ी में मामला दर्ज कर दिया.

इस पूरी घटना का खुलासा तब हुआ जब Police ने चिट्ठी में दिए गए मोबाइल नंबर पर फोन करके युवती को मेडिकल व बयान देने के लिए आने को कहा तो युवती ने कहा कि उसके साथ कोई रेप नहीं हुआ है, न ही उसने किसी के खिलाफ कोई शिकायत दर्ज करवाई है. किसी ने उसके नाम से फर्जी शिकायत दर्ज करवाई है. पहले महिला थाना कैथल में भी ऐसी ही शिकायत भेजी थी. दूसरी तरफ केस में आरोपी बनाए गए बालू गांव के 46 वर्षीय गुरदेव का कहना है कि उसने भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों के खिलाफ मुहिम छेड़ी हुई है. इसकी रंजिश में उसके खिलाफ फर्जी Case दर्ज करवा कर फ़साने की कोशिश की जा रही है. 2017 में भी एक युवती ने उसके खिलाफ रेप के आरोप लगाए थे जिसमें वह निर्दोष साबित हुआ था.

गुरुदेव ने बताया कि पूंडरी थाने में मामला दर्ज होने से पहले उसने थाना प्रभारी को सारी सच्चाई बता दी थी कि ऐसी ही एक शिकायत महिला थाने में भी आई थी. महिला थाने ने महिला के बयान को झूठा पाया है तथा केस को बंद कर दिया है. परंतु शिकायतकर्ता द्वारा सारी सच्चाई बताने के बाद भी पुंडरी थाना प्रभारी ने फिर भी उनके खिलाफ जो दुष्कर्म तथा जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज किया है वह बिल्कुल गलत है.

SP कार्यालय से आई थी शिकायत

पुण्डरी के डीएसपी रविन्द्र सागवान ने बताया कि पुलिस अधीक्षक कैथल के कार्यालय से पुंडरी थाने में एक शिकायत आई थी. इस संबंध में संबंधित महिला को जब पूछा गया तो उसने बताया कि उसने कोई ऐसी शिकायत दर्ज नहीं करवाई. उसके साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ. डीएसपी ने कहा कि यह शिकायत किसने दी है इसकी अभी जांच की जा रही है और जांच के बाद जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज करवाने संबंधित 182 आईपीसी के तहत कारवाई होगी. फिलहाल इस बात का पता लगाया जा रहा है कि आखिर कौन व्यक्ति है जिसने एसपी कार्यालय में शिकायत की. यह भी जांच का विषय बना हुआ है. उन्होंने पूंडरी थाने के एसएचओ से इस बारे रिपोर्ट मांगी है और जैसे ही रिपोर्ट आएगी वह एसपी कैथल को भेज दी जाएगी.

डाक द्वारा भेजी गई थी शिकायत

महिला थाना SHO नन्ही देवी ने बताया कि उमरी कस्बे की शिकायत डाक के माध्यम से उनके पास भेजी गई थी. इसमें बालू गांव के एक व्यक्ति पर दुष्कर्म करने संबंधित आरोप थे. जब उस युवती को बुलाया गया तो उसने बताया कि उसने ऐसी कोई भी शिकायत नहीं दी. न ही उसके साथ कोई दुष्कर्म हुआ है. इस संबंध में युवती ने एक शिकायत पुलिस अधीक्षक को भी दी है कि किसी व्यक्ति ने उसके नाम से कोई फर्जी शिकायत दी है. महिला ने एक व्यक्ति पर शक जाहिर किया है इस संबंध में अभी जांच चल रही है.

Author Deepika Bhardwaj

नमस्कार मेरा नाम दीपिका भारद्वाज है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रही हूं. मैंने कॉमर्स में मास्टर डिग्री की है. मेरा उद्देश्य है कि हरियाणा की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करती हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ ताकि पाठकों को इसे समझने में कोई भी परेशानी न हो और उन्हें पूरी जानकारी प्राप्त हो. विशेषकर मैं जॉब से संबंधित खबरें आप लोगों तक पहुंचाती हूँ जिससे रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button