Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Mahendragarh News

पक्षियों के संरक्षण के लिए हरियाणा सरकार का सराहनीय कदम, नारनौल में दो हजार पक्षियों के लिए बनाया गया 49 फुट ऊँचा टावर

इस न्यूज़ को शेयर करे:

नारनौल :- पक्षियों की प्रजातियां दिन-ब-दिन लुप्त होती जा रही है. इनको बचाने के लिए महेंद्रगढ़ जिले के  नारनौल शहर का पहला पक्षी टावर बनाया गया है जो पूरी तरह से तैयार हो चुका है.  यह पक्षी टावर रेवाड़ी रोड स्थित मोड़ावाला मंदिर में बनाया गया है.  रोटरी Club की इस अनूठे पहल से यह सफल हो पाया है. इस Bird Tower को बनाने में लगभग 7 लाख की लागत आई है जिसमें एक साथ दो हजार पक्षी रह पाएंगे.

7 मंजिल टावर किया गया है तैयार

जमीन के नीचे 10 फुट का कंकरीट टावर बनकर तैयार हो चुका है. इसके ऊपर सात मंजिल टावर तैयार किया है. इसकी कुल Height लगभग 49 फुट है. प्रत्येक मंजिल पर 250 से 300 के करीब पक्षियों के रहने की व्यवस्था की जाएगी. यह पक्षी टावर पक्षियों को बारिश, तूफान, गर्मी व सर्दी से बचाने के लिए बहुत कारगर होगा. गुजरात से आए सामग्री और  मजदूरों के Supports से यह पक्षी टावर बनाया गया है.  इस पक्षी टावर की विशेषता यह भी है कि Material सीमेंट कंकरीट से तैयार होने के बाद गुजरात से ही तैयार पक्षी घर का सांचा यहां Shift किया है, इसके भीतर का तापमान सर्दी व गर्मियों के अनुकूल रहता है.

दिसंबर महीने में किया गया था भूमि पूजन 

विभिन्न जन सेवा के कामों में सदैव अपनी मुख्य भूमिका निभाने के लिए प्रसिद्ध रोटरी क्लब नारनौल सिटी नारनौल में यह Project लाया है. पक्षियों के आशियाने पक्षी घर प्रोजेक्ट के Incharge रोटेरियन प्रवीण संघी ने बताया कि डी-मार्ट के नीरज संघी के विशेष सहयोग से इस आशियाने का निर्माण भुंगारका मूल के निवासी स्वर्गीय बाबूलाल अग्रवाल एवं राजेंद्र ठेकेदार की पुण्य स्मृति में उनके सुपुत्रों दिनेश अग्रवाल, कपिल अग्रवाल एवं देवेंद्र अग्रवाल के सौजन्य से करवाया गया है.  वर्तमान में गुजरात के मुंद्रा निवासी दिनेश, कपिल व देवेंद्र अग्रवाल, इंपोर्ट Export उद्योगपति हैं जोकि अपने स्वर्गीय पिता बाबूलाल अग्रवाल एवं राजेंद्र ठेकेदार भुंगारका वालों की पुण्य स्मृति में इस पक्षी घर को बनवा रहे हैं.  इस आशियाने का भूमि पूजन दिसंबर महीने में किया गया था.

अधिक ऊंचाई होने के कारण रहेंगे सुरक्षित

जिसमें मुख्य यजमान के रूप में मनोहर लाल संघी, आशा संघी व नीरज संघी ने शास्त्री जी के सानिध्य में पूरे विधि विधान से पूजा अर्चना के साथ किया था. फिलहाल यह पूरी तरह से तैयार है जल्द ही इसका उद्घाटन होगा. मोड़ा  वाला मंदिर में जहां पक्षियों को दाना डालने का चबूतरा बना है, उसी के साथ लगती जगह पर यह पक्षी टावर बनाया गया है. पक्षी आसानी से यहां आकर दाना चुग सकते हैं और उसके बाद अपने घर लौट सकते हैं. इससे पक्षियों का सर्दी, गर्मी व बरसात से बचाव होगा और ज्यादा ऊंचाई होने के कारण वो Safe भी रहेंगे.

Author Deepika Bhardwaj

नमस्कार मेरा नाम दीपिका भारद्वाज है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रही हूं. मैंने कॉमर्स में मास्टर डिग्री की है. मेरा उद्देश्य है कि हरियाणा की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करती हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ ताकि पाठकों को इसे समझने में कोई भी परेशानी न हो और उन्हें पूरी जानकारी प्राप्त हो. विशेषकर मैं जॉब से संबंधित खबरें आप लोगों तक पहुंचाती हूँ जिससे रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button