Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Kaithal News

हरियाणा रोडवेज Workshop में आधे से ज्यादा पद खाली, ट्रेनिंग वाले बच्चो के भरोसे हो रही बसों की देख रेख

इस न्यूज़ को शेयर करे:

कैथल :- रोडवेज विभाग की कर्मशाला में इन दिनों कर्मचारियों की भारी कमी हो रही है. जिस कारण से यहां का कामकाज प्रभावित हो रहा है. लंबे समय से यहां कर्मचारियों की स्थाई भर्ती नहीं हुई है. प्रशिक्षकों के भरोसे विभाग का कार्य चल रहा है. मुख्यालय के आदेशानुसार कैथल डिपो में 1 वर्ष के लिए पॉलिटेक्निक विद्यार्थियों की इंटरशिप लगाई जाती है. पहले विभाग में कर्मचारी थे तो शिफ्टों में कार्य होता था, लेकिन अब उन्हीं प्रशिक्षकों से काम चलाया जा रहा है.

गाड़ियां गंतव्य मार्ग पर पहुंचने से पहले ही दम तोड़ रही हैं

आपको बता दे की पहले कर्मचारियों को काम के साथ आराम मिलता था और बसों की मेंटेनेंस का कार्य ठीक होता था. अब गाड़ियां गंतव्य मार्ग पर पहुंचने से पहले ही दम तोड़ रही हैं. इसका मुख्य कारण कर्मचारियों की कमी को बताया जा रहा है. इसके लिए विभाग की ओर से लंबे समय से मैकेनिको की स्थाई भर्ती नहीं की है. इस वक़्त अधिकतर कर्मचारी ऐसे हैं जो बसों के स्पेयर पार्ट तक खोलने में शारीरिक रूप से कमजोर है. वही पहले जो बसों की सर्विस सही प्रकार से होती थी, लेकिन अब नाम मात्र की हो पा रही है. बता दे कि रोडवेज की कर्मशाला में 204 स्वीकृत पद हैं, इनमें से 117 पद खाली पड़े हैं. वर्तमान समय में कार्यरत कर्मचारियों को अधिक वर्क करना पड़ रहा है.

इस तरह से समझे पदों की संख्या

पद स्वीकृत भरे खाली
मैकेनिक 40 17 29
इलेक्ट्रीशियन 7 4 3
कारपेंटर 8 3 5
ब्लैकस्मिथ 9 4 5
वेल्डर 3 1 2
पेंटर 4 1 3
अपहोल्सटर 2 0 2
टर्नर 1 0 1
रेडिएटर रिपेयर 3 0 3
सहायक मैकेनिक 20 0 20
सहायक इलेक्ट्रीशियन 8 0 8
सहायक टायरमैन 5 1 4
हेल्पर 41 25 16
फोरमैन 4 0 4

यह मुख्य पद है. इसके अलावा कुछ अन्य पद हैं. जानकारी के अनुसार कर्मशाला में इस समय कुल 204 स्वीकृत पद हैं, इनमें से 117 पद रिक्त है

दिन और रात में अलग-अलग कर्मचारी करते थे DUTY

कर्मशाला में जिस समय सभी पदों पर कर्मचारी थे, उस समय दिन में अलग और रात के समय अलग कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाती थी. लंबे रूटों से देर रात बसें डिपो में आती थी, इसके बाद बसों की सर्विस होती थी. इसके लिए रात को कर्मचारी नियुक्त किए जाते थे, लेकिन अब कर्मचारियों की कमी के कारण काफी काम प्रभावित हो रहा है.

Staff की कमी से काम हो रहा प्रभावित

डिपो महाप्रबंधक अजय गर्ग का ये कहना है कि, Workshop में कर्मचारियों की भारी कमी है. इस कारण विभाग का कामकाज अवरुद्ध हो रहा है. इस बारे में हमने मुख्यालय को भी पत्र लिखा गया है.

Sunny Singh

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं खबरी एक्सप्रेस वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने ABP न्यूज़ में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं खबरी एक्सप्रेस पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button