Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Haryana NewsJobs

HKRN: हरियाणा कौशल रोजगार निगम में आर्थिक और अनुभव आधार पर मिलेंगी नौकरियां

इस न्यूज़ को शेयर करे:

जींद, HKRN:- उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि हरियाणा सरकार (Haryana Government) के द्वारा प्रदेश के नागरिकों के रोजगार में वृद्धि करने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहे है. उन्होंने बताया कि कौशल रोजगार योजना (HKRN) के माध्यम से नागरिक उन पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, जिसके लिए पहले आउटसोर्सिंग के माध्यम से आवेदन किया जाता था. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा राज्य की सभी वैकेंसियों को अब ऑनलाइन किया जा रहा है. इसके अलावा भी पहले आउटसोर्सिंग भर्तियों के अंतर्गत ठेकेदारी प्रथा को खत्म करने का काम किया गया है. वे शनिवार (Saturday) को जींद के जेजेपी (JJP) कार्यालय पर जन समस्याएं सुनने के उपरांत पत्रकारों से रूबरू हुए थे.

HKRN

डीसी रेट व ठेकेदारी प्रथा को जड़ से खत्म करने का काम

डिप्टी सीएम (Dipty CM) ने कहा कि आउटसोर्सिंग प्रक्रिया के माध्यम से न केवल अनुबंध के आधार पर काम करने वाले कर्मचारियों के शोषण पर रोकथाम होगा, बल्कि योग्य उम्मीदवार को पारदर्शिता के माध्यम से पर्याप्त रोजगार प्राप्त करने के अवसर भी सुनिश्चित किए जाएंगे. उन्होंने कहा कि कौशल रोजगार अपने आप में एक अद्भुत प्रकार की योजना है इस योजना से डीसी रेट व ठेकेदारी प्रथा को जड़ से खत्म किया जा रहा है. इसमें शुरू-शुरू में छोटी- मोटी दिक्कतों का सामना जरूर करना पड़ा, पर पिछले आठ महीनों में जॉब वैकेंसी को स्ट्रीमलाइन किया गया है.

डिप्लोमा होल्डर के लिए भी किए गए हैं कार्य

समस्याएं सुनने के उपरांत उन्होंने कहा कि आर्थिक आधार पर जो गरीब परिवार थे उनको प्राथमिकता के आधार पर रोजगार प्रदान करवाया जाएगा. दुष्यंत चौटाला ने जानकारी देते हुए बताया कि HKRN के तहत जो पहले से लगे हुए कर्मी थे उनको सरकार ने बेरोजगार ना करके वहीं पर स्थापित करने का काम भी किया है और धीरे-धीरे पहले सरकार ने डिप्लोमा होल्डर के लिए भी काम किया है.

BPL परिवारों को विशेष छूट

उन्होंने कहा कि इसको सरकार ने सभी विभागों के हर क्षेत्र की नौकरियों के लिए खोल दिया है. इसके अलावा इसमें बीपीएल (BPL) परिवारों को भी छूट प्रदान की गई है. 30 हजार सैलरी तक के जो तकनीकी पद हैं उसके लिए आने वाले समय में उनको भी भरा जाएगा. विधायकों को मिलने वाली धमकियों के सवाल पर जवाब देते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि इसकी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है क्योंकि विदेशों में बैठे कुछ आपराधिक प्रवृत्ति के लोग इस तरह की घटनाओं को अंजाम देते रहते हैं. इसके लिए खुफिया व साइबर विभाग लगातार छानबीन में जुटा हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button