Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Hisar News

Special: ये है हरियाणा का सबसे पुराना स्कूल, 1918 से आज तक लाखो बच्चो का सवार चुका है जीवन

इस न्यूज़ को शेयर करे:

हिसार :- जब कभी भी हम स्कूल जाते किसी बच्चे को देखते है तो हमें अपने स्कूल टाइम के किस्से याद आने लगते है. स्कूल में की गयी शरारत हो या स्कूल में किया कोई अच्छा काम, सभ यादे हमारे दिमाक में घूमने लगती है. वो पुराने दिन भी क्या दिन थे. टीचर की मार खाने के बाद भी एक दूसरे को बोलते थे मुझे कम मार लगी तुझे ज्यादा. अब जब हम स्कूल लाइफ के बारे में सोचते है तो यही लगता है काश वो बचपन कभी गया ही न होता. चलो ये तो थी यादे आज हम आपको बताएँगे हरियाणा के सबसे पुराने स्कूल के बारे में चलिए जानते है हरियाणा के सबसे पुराने स्कूल के बारे में.

CAV हाई स्कूल है हिसार का सबसे पुराना स्कूल

बता दे की हरियाणा के हिसार जिले में स्थित CAV हाई स्कूल, जिसे Chandulal Anglo-Vedic High School के नाम से भी जाना जाता था. यह स्कूल हरियाणा के सबसे पुराने स्कूल में से एक है. यह भारत के हरियाणा राज्य के हिसार शहर में स्थित एक हाई स्कूल है. यह हिसार का सबसे पुराना स्कूल है और आपको बता दे कि यह स्कूल अभी भी चालू हालत में है. यह स्कूल डीएवी कॉलेज प्रबंध समिति द्वारा संचालित और वित्त पोषित है. 2004-05 में, समिति ने ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा के लिए CAV Senior Secondary School के नाम से एक और स्कूल शुरू किया था. इसी समिति के तहत एक अन्य निजी पब्लिक स्कूल भी चल रहा है, जिसका नाम DN Model School है और हाल ही में उन्होंने सीएवी प्राइमरी स्कूल शुरू किया है.

आर्य समाज के सदस्यों द्वारा शुरू किया गया था स्कूल

आपको बता दे कि यह स्कूल 1 अप्रैल 1918 को हिसार में आर्य समाज के सदस्यों द्वारा शुरू किया गया था. इसका पहले नाम लाला चंदूलाल तायल के नाम पर रखा गया था. सेठ छजू राम और लाला लाजपत राय ने इस स्कूल के लिए दान दिया था. स्कूल बनाने के लिए चंदूलाल तायल के छोटे भाई हरिलाल तायल ने जमीन दान कर दी थी. यह स्कूल हरियाणा बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन से संबद्ध रखता है. स्कूल एक निजी तौर पर वित्त पोषित पब्लिक स्कूल है जो Not-For-Profit Trust दयानंद एंग्लो-वैदिक स्कूल सिस्टम द्वारा चलाया जाता है.

आपकी जानकारी बता दे की सुभाष चंद्रा – पूर्व राज्यसभा सदस्य और ज़ी टीवी और एस्सेल ग्रुप के संस्थापक अध्यक्ष भी इसी स्कूल से पढ़ चुके है. अगर लैंग्वेज की बात करे तो स्कूल में हिंदी, इंग्लिश के साथ में संस्कृत भाषा भी पढ़ाई जाती है.

Sunny Singh

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं खबरी एक्सप्रेस वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने ABP न्यूज़ में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं खबरी एक्सप्रेस पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button