Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Haryana NewsLifestyle

हरियाणा खरीदेगा राजस्थान से देसी कपास का बीज, किसानों को दी जाएगी प्रोत्साहन राशि

इस न्यूज़ को शेयर करे:

भिवानी :- प्रदेश में कपास की फसल में गुलाबी सुंडी का प्रकोप व फसलों के बदलाव की योजना के चलते इस बार हरियाणा में देशी कपास की बिजाई करने का मन बना रहे है, लेकिन देशी कपास का बीज उपलब्ध न होने की वजह से किसानों को मजबूरन नरमा विदाई करनी पड़ रही है. कृषि विभाग ने किसानों के सामने देशी कपास के बीज की कमी न रहने देने का विश्वास दिलाया है. किसानों की जरूरत के हिसाब से कृषि विभाग राजस्थान से देशी कपास का बीज मंगवा रहा है. चूंकि इस बार नरमा का बीज तैयार करने वाली कंम्पनियों ने देशी कपास का बीज कम मात्रा में बनाया है. फिलहाल कृषि विभाग के अधिकारी लगातार राजस्थान की बीज कम्पनियों से सम्पर्क बनाए हुए हैं. अधिकारियों का तर्क है कि उनके सामने बीज के लिए कोई भी समस्या उत्पन्न नहीं होगी.

जानकारी के अनुसार किसानों को देशी कपास का बीज उपलब्ध करवाए जाने के लिए कृषि विभाग राजस्थान के बीज तैयार करने वाली कम्पनियाें से बातचीत कर रहा है. अगले एक-दो दिनों में देशी कपास का बीज राजस्थान से पहुंचने की आशा है. चूंकि राजस्थान में हर साल देशी कपास का बीज तैयार होता है और वहां बिजाई भी की जाती है. दूसरी तरफ हरियाणा में देशी कपास की बिजाई बहुत ही कम की जाती है. जिसके चलते इस बार कपास का बीज तैयार करने वाली कम्पनियों ने देशी कपास का बीज तैयार नहीं किया.

जिसके कारण बाजार में देशी कपास के बीज की कमी हो गई है. दूसरी तरफ कृषि विभाग ने देशी कपास की बीज किसानों को उपलब्ध करवाए जाने के लिए अनेक बीज तैयार करने वाली कम्पनियों से सम्पर्क बनाया है, ताकि किसानों को देशी कपास का बीज उपलब्ध करवाया जा सके. फिलहाल हरियाणा सरकार ने देशी कपास की बिजाई पर किसानों को तीन हजार रुपये प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि दिए जाने का निर्णय लिया है. जिसके चलते देशी कपास की बिजाई के प्रति किसान ज्यादा रुचि दिखा रहे हैं.

अधिकारियों का कहना है

कृषि विभाग के उपनिदेशक आत्माराम गोदारा ने बताया कि किसानाें को हर हाल में देशी कपास का बीज दिलाया जाएगा. इसके लिए राजस्थान से देशी कपास का बीज मंगवाया जा रहा है. साथ ही बीज तैयार करने वाली अन्य कम्पनियों से भी बात की जा रही है. किसी भी किसान को देशी कपास के बीज के बिना नहीं रहने दिया जाएगा.

Author Deepika Bhardwaj

नमस्कार मेरा नाम दीपिका भारद्वाज है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रही हूं. मैंने कॉमर्स में मास्टर डिग्री की है. मेरा उद्देश्य है कि हरियाणा की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करती हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ ताकि पाठकों को इसे समझने में कोई भी परेशानी न हो और उन्हें पूरी जानकारी प्राप्त हो. विशेषकर मैं जॉब से संबंधित खबरें आप लोगों तक पहुंचाती हूँ जिससे रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button