Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Bhiwani News

विधायक के गांव के लोग ही बिना पानी परेशान, जल घर में पिने के पानी में तैर रही मछलियाँ

इस न्यूज़ को शेयर करे:

भिवानी :- हरियाणा के गांव खरक खुर्द में पीने के पानी से लेकर वाटर टैंक के पानी तक आज कल ग्रामीणों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. बता दे कि गांव में आज कल स्कीन प्रॉब्लम और एलर्जी की परेशानी बहुत ज्यादा बढ़ गयी है. ग्रामीण इस का कारण वाटर टैंक से आने वाले पानी को बता रहे है. बताया जा रहा है की वाटर टैंक की सफाई न होने के चलते जैसा पानी नहरों से आता है वही पानी सीधा गांव में सप्लाई किया जाता है, जिस से पानी फ़िल्टर न होने के कारण गांव में स्कीन व एलर्जी की समस्या बढ़ रही है.

गांव में बढ़ रही है स्किन प्रॉब्लम

आपको बता दें कि बारिश के इस मौसम में जिन खेतो और नालो में पानी ज्यादा हो गया है, उस पानी को नहरों में डाला जा रहा है. अब खेतो में इस समय धान की फसल है. धान की फसल में या अन्य फसलों में जो केमिकल दवा डाली गयी थी या डाली जा रही है, वही दवा पानी के साथ मिलकर नहरों के रस्ते वाटर टैंको में जा रही है. अब ऐसे में जैसा पानी नहरों से आता है, वही पानी गांव में सप्लाई कर दिया जाता है. जिस से ग्रामीण नहाते व कपडे आदि धोते है. फिल्टर ना होने के कारण गांव में केमिकल का पानी यूज़ किया जा रहा है, जिस के कारण स्कीन प्रॉब्लम के साथ और भी बहुत ज्यादा अलग- अलग तरह की एलर्जी गांव में पनप रही है. जिसके कारण गांव वालो को बहुत ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

कागजों में ही होती है वाटर टैंक की सफाई

गांव वालों का कहना है कि पिछले 9 साल से जल घर की अभी तक सफाई नहीं हुई है. गांव के जल घर में बने वाटर टैंको के अंदर अलग अलग प्रकार की हानिकारक घास आदि जमा हो रखी है जो की साफ़ पानी न मिलने का एक कारण है. आपको बता दे कि हक़ीक़त में तो जलघर में साफ़ सफाई होती नहीं, जबकि कागजी तोर पर जल घर की सफाई दिखा दी जाती है. इस मामले को लेकर ग्रामीणों का कहना है की कई बार CMO ऑफिस में कम्प्लेन दर्ज कराई गयी, लेकिन हरियाणा गवर्नमेंट या CMO ऑफिस की तरफ से अभी तक इस मामले में कोई करवाई नहीं की गयी.

विधायक के गांव का यह हाल है तो बाकी गांव का क्या हाल होगा

आपको बता दे की खरक गांव बवानीखेड़ा विधानसभा के अंतर्गत आता है और बवानीखेड़ा से वर्तमान विधायक बिशम्बर बाल्मीक खरक गांव से ही है. अब ऐसे में गांव वालो का कहना है, जब गांव के विधायक के होते हुए इतनी परेशानी का सामना गांव को करना पड़ रहा है तो दूसरे गांवो का क्या हाल होगा. गांव वाले इसे सरकार की नाकामी भी बता रहे है. इस मामले को लेकर खरक गांव के ग्रामीणों में बहुत ज्यादा रोष है.

पीने के पानी की भी है भारी किल्लत

गांव की जमीन में पिने लायक पानी न होने के कारण ग्रामीणों को गांव से 2 किलोमीटर दूर साइकिल और मोटरसाइकिल पर पानी लेने के लिए जाना पड़ता है. जिन घरो में साइकिल या मोटरसाइकिल है वो लोग तो पिने का पानी ले आते है, लेकिन जिन घरो में औरत या कोई इतनी दूर जाने में समर्थ नहीं है, उसे वाटर टैंक का पानी पीना पड़ता है.

Sunny Singh

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं खबरी एक्सप्रेस वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने ABP न्यूज़ में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं खबरी एक्सप्रेस पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button