Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Mandi Bhav

Mustard Price: सरसों के दामों में कभी तेजी कभी मंदी का दौर, जाने कितने तक जाएगा सरसों का भाव

इस न्यूज़ को शेयर करे:

नई दिल्ली :- रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद भारत में खाद्य तेलों का आयात बहुत प्रभावित हुआ है. भारत में अधिकांश खाद्य तेल इंडोनेशिया (Indonesia) से और उसके बाद मलेशिया (Malesia) से आयात किया जाता है, लेकिन विश्व संकट के कारण इन देशों ने खाद्य तेलों का आयात कम कर दिया है. वहीं, मौसमी कारणों से कमजोर फसल के कारण अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों से सोयाबीन (Soyabean) तेल के आयात में कमी आ रही है.

सूरजमुखी का तेल है सबसे महंगा

रूस भारत में यूक्रेन से सूरजमुखी (Surajmukhi) का तेल आयात करता था, जो फिलहाल बंद है. सूरजमुखी का तेल वर्तमान युग में सभी खाद्य तेलों में सबसे महंगा (Costly) तेल है. हालांकि अन्य खाद्य तेलों की कीमत भी कम नहीं है. सभी खाद्य तेलों में सबसे सस्ता होने के कारण सरसों की मांग बढ़ रही है, लेकिन सरसों की आवक 6 से 7 लाख के सीमित दायरे में होने की वजह से सरसों के बाजार भाव में तेजी और गिरावट देखने को मिल सकती है.

सरसों के भाव में वृद्धि

फिलहाल सरसों का तेजी और मंदी का दौर एक साथ बना हुआ है. हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘सरसों’ की ताजा कीमत ₹6500 बाजार में आ गई है, क्योंकि आवक सामान्य स्थिति में है. माना जा रहा है कि जैसे ही आवक में थोड़ी कमी आएगी सरसों की कीमत बढ़ने की कगार पर होगी, कीमत भी ₹7000 तक जाने की उम्मीद है. वहीं, स्टॉक की वजह से सरसों के तेल की खपत करने वाले बड़े पौधों में पिछले कुछ समय से सरसों के तेल की खरीद में कमी आई है, जिससे किसी बाजार में ₹50 से ₹100 तक की गिरावट देखने को मिल रही है.

किसानों को मिलेगा फायदा..

यह गिरावट ज्यादा दिनों तक नहीं रहेगी, क्योंकि बाजार में मांग की उतनी आपूर्ति नहीं हो पा रही है. व्यापारियों के पास सरसों के तेल का ज्यादा स्टॉक नहीं है. कुछ किसानों के पास सरसों की उपलब्धता तो है, लेकिन वे बाजार भाव में खाद्य तेलों की बढ़ती कीमत को देखते हुए सरसों की बढ़ती कीमतों पर भी नजर बनाए हुए हैं, ताकि उन्हें अच्छा मुनाफा हो सके.

विदेशी स्तर की बात करें तो सोयाबीन की फसल मौसमी कारणों से काफी प्रभावित हुई है, ऐसे में माना जा सकता है कि विदेशों में सरसों के तेल की मांग भारत से ही पूरी होगी, ऐसे में भी इसकी पूरी संभावना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button