Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Government Scheme

हरियाणा में शुरू करें इस ड्राई फ्रूट की खेती, हरियाणा सरकार देगी प्रति एकड़ मिलेगी 1.40 लाख रूपए

इस न्यूज़ को शेयर करे:

रेवाड़ी :- हरियाणा सरकार समय- समय पर बागवानी करने वाले को किसानों को प्रोत्साहित करती रहती है. इसी दिशा में अब Haryana सरकार ने खजूर की खेती को बढ़ावा देना शुरू कर दिया है. बता दे कि किसानों को सरकार की तरफ से प्रति एकड़ 1.40 लाख रूपये Subsidy दी जाएगी, जो किसानों को तीन किस्तों में मिलेगी. बागवानी विशेषज्ञों का कहना है कि दक्षिण हरियाणा में रेतीली जमीन है. यदि किसान इस जमीन में खजूर की खेती करेंगे, तो यह खेती किसानों को मालामाल कर सकती है.

हरियाणा सरकार कर रही है किसानों को बागवानी के लिए प्रोत्साहित  

इसी दिशा में बागवानी विभाग की तरफ से इस प्रयोग के तौर पर रेवाड़ी जिले के 2 गांवों में खजूर के पौधे लगवाए गए है. जिले में बागवानी करने वाले किसानों की संख्या काफी कम है. अधिकतर Kisan बागवानी के नाम पर अमरुद, नींबू, किन्नू आदि फसलों पर जोर देते हैं. बागवानी विभाग क्षेत्र की जमीन में खजूर के Production को बढ़ावा देने का प्रयास कर रही है. कृषि विशेषज्ञों के अनुसार इस क्षेत्र की जमीन और जलवायु खजूर की खेती के लिए अनुकूल है.

इन क्षेत्रों में खजूर की खेती किसानों को कर देगी मालामाल 

बता दें कि अधिक लवणीय क्षेत्रों में जहां खारा पानी की वजह से किसान गेहूं और सरसों की Crop’s नहीं उगा पाते, वहां पर वह बागवानी से अच्छी कमाई कर सकते हैं. बंजर भूमि पर भी खजूर की खेती से Kisan अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. इसके पौधों को तैयार होने के लिए 30 डिग्री और फसल पकने के लिए 45 डिग्री सेल्सियस तापमान की आवश्यकता होती है. इस क्षेत्र में ऐसा ही Temperature बना रहता है. सर्दी के समय पौधों का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता होती है.

सरकार खजूर की खेती पर दे रही है अनुदान राशि 

सरकार ने अनुकूल परिस्थितियों को देखते ही खजूर की फसल के लिए अनुदान देने का फैसला लिया है. किसानों को पौधे लगाते समय पहली Installment के रूप में 80 हजार रूपये, दूसरी और तीसरी किस्त में 28 -28 हजार रुपए दिए जाएंगे. 1 एकड़ जमीन में खजूर के 62 पौधे लगाए जा सकते हैं. एक पौधे से दूसरे पौधे की दूरी 25 फिट होती है. इस अनुदान के लिए सरकार की तरफ से एक Condition भी रखी गई है कि किसानों को नेशनल हॉर्टिकल्चर लैब की नर्सरी से ही पौधे खरीदने होंगे. एक पौधे की कीमत 4000 से 4500 रूपये तक है.

5 साल में शुरू होता है उत्पादन 

एक बार खजूर के पौधे लगा दिए जाते हैं, तो उनके नष्ट होने की संभावना कम ही होती है. प्रति पेड़ पर 70 से 100 Kg तक हजूर पैदा होता है. जिससे 1 एकड़ में 50 क्विंटल तक खजूर पैदा हो सकता है. बागवानी विशेषज्ञों ने बताया कि खजूर का Production 5 साल में शुरू होता है. इसी बीच पौधों के पेड़ बनने तक किसान अपनी जमीन में पौधों के बीच ही दूसरी फसल भी लगा सकते हैं.

Author Meenu Rajput

नमस्कार मेरा नाम मीनू राजपूत है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर बतौर कंटेंट राइटर काम करती हूँ. मैंने बीकॉम, ऍम कॉम तक़ पढ़ाई की है. मैं प्रतिदिन हरियाणा की सभी ब्रेकिंग न्यूज पाठकों तक पहुंचाती हूँ. मेरी हमेशा कोशिश रहती है कि मैं अपना काम अच्छी तरह से करू और आप लोगों तक सबसे पहले न्यूज़ पंहुचा सकूँ. जिससे आप लोगों को समय पर और सबसे पहले जानकारी मिल जाए. मेरा उद्देशय आप सभी तक Haryana News सबसे पहले पहुँचाना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button