Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Gadget

5G आने के बाद लगेंगे हजारों मोबाइल टावर, आप भी बिना इजाजत इस प्रोसेस से छत पर लगवा सकते है टावर

इस न्यूज़ को शेयर करे:

नई दिल्ली :- टेलीकॉम कंपनियों (Telecom companies ) को अब किसी भी प्राइवेट संपत्ति पर मोबाइल टावर (Mobile Tower) लगाने के लिए संबंधित प्राधिकरण से स्वीकृति लेने की कोई आवश्यकता नहीं होगी. सरकार ने इस मामले में हाल ही में ‘मार्ग के अधिकार’ (New Right of Way Rules) के नियम के बारे में सूचना दी है.

नहीं लेनी होगी स्वीकृति 

सरकार ने विशेषकर 5G सर्विस के कार्यान्वयन (Implementation) को सरल करने के लिए ऐसा किया है. सरकार द्वारा मोबाइल, रेडियो,एंटीना या बिजली के खंभे लगाने और फुट ओवरब्रिज आदि का प्रयोग करने के लिए शुल्क के साथ नियमों के बारे में जानकारी दी है. 17 अगस्त को जारी एक अधिसूचना में बताया गया था कि ‘यदि किसी कंपनी के पास लाइसेंस है और वो किसी प्राइवेट प्रॉपर्टी पर टेलीग्राफ इंफ्रास्ट्रक्चर (Infrastructure) के बुनियादी ढांचा स्थापित करना चाहती है तो इसके लिए उसे संबंधित अथॉरिटी से कोई भी स्वीकृति लेने की आवश्यकता नहीं है.

इंजीनियर से वेरीफाई प्रति करवानी होगी जमा 

हालांकि, टेलीकॉम कंपनियों को टेलीग्राफ इंफ्रास्ट्रक्चर स्थापित करने के बारे में लिखित जानकारी संबंधित प्राधिकरण को देनी होगी. टेलीकॉम कंपनियों को Private प्रॉपर्टी के बारे में सारी Detail देनी होगी . इसके अतिरिक्त इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर इंजीनियर द्वारा Verify एक प्रति भी जमा करनी होगी.  जिसमें यह बात स्पष्ट होगी कि जिस Building या प्रॉपर्टी पर मोबाइल टावर या खंभा लगाया जाएगा वह पूर्णतया सुरक्षित है.नोटिफिकेशन में कहा गया है कि छोटे सेल लगाने के लिए Street फर्नीचर का इस्तेमाल करने वाली Telecom कंपनियों को शहरी क्षेत्रों में 300 रुपये प्रति वर्ष और ग्रामीण क्षेत्रों में 150 रुपये प्रति स्ट्रीट फर्नीचर का भुगतान करना होगा. स्ट्रीट फर्नीचर का प्रयोग कर के केबल स्थापित करने के लिए टेलीकॉम कंपनियों को हर साल 100 रुपये प्रति स्ट्रीट फर्नीचर देना होगा.

देश में कब से मिलेगी 5G सेवा ?

केंद्रीय IT मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव ने जल्द 5G सर्विस शुरू होने के बारे में कहा है. उन्होंने बताया कि भारत में 12 अक्टूबर तक 5G सर्विस Launch होगी. लॉन्च होने के बाद इसे दूसरे शहरों और कस्बों में विकसित किया जाएगा. अश्विनी वैष्णव ने कहा- ‘हमें उम्मीद है कि 5G देश के हर भाग तक पहुंच जाए. हमारा प्रयास है कि सभी इस सर्विस को खरीदने के लिए समर्थ हों, इंडस्ट्री द्वारा शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों दोनों पर ही विशेष ध्यान दिया जा रहा है.

Author Deepika Bhardwaj

नमस्कार मेरा नाम दीपिका भारद्वाज है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रही हूं. मैंने कॉमर्स में मास्टर डिग्री की है. मेरा उद्देश्य है कि हरियाणा की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करती हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ ताकि पाठकों को इसे समझने में कोई भी परेशानी न हो और उन्हें पूरी जानकारी प्राप्त हो. विशेषकर मैं जॉब से संबंधित खबरें आप लोगों तक पहुंचाती हूँ जिससे रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button