Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Finance

Post Office: पोस्‍ट ऑफिस की इस स्कीम से मिलेगा लाखों का रिटर्न, सिर्फ 500 रुपये से खुलवाएं खाता

इस न्यूज़ को शेयर करे:

पंचकुला :- यदि आप भी अपने पैसे को सुरक्षित रखना चाहते हैं, तो ऐसे में आपके लिए Post Office में निवेश करना एक बेहतर ऑप्शन रहेगा. देखा जाए तो शेयर मार्केट और म्यूचुअल फंड में भी अच्छा रिटर्न मिल जाता है, लेकिन इसमें उतना ही ज्यादा रिस्क बना रहता है. यदि आप इस Risk से बचना चाहते हैं, तो ऐसे में Post Office ही एक ऐसा विकल्प माना जाता है जहां पर इन्वेस्ट करने से आपका पैसा Secure और Safe रहता है, साथ ही आपको अच्छा रिटर्न भी मिल जाता है.

 

सिक्योर और सेफ  रहता है पोस्ट ऑफिस में किया गया निवेश  

यदि आपने भी पोस्ट ऑफिस में इस योजना के तहत अपना Account खुलवाया है तो आप भी लाखों रुपए का Return पा सकते हैं. पोस्ट ऑफिस कि स्माल सेविंग स्कीम रकरिंग डिपॉजिट के तहत किया गया निवेश पूरी तरह से सिक्योर रहता है. सरकार की इस स्कीम के तहत आप 100 रूपये से लेकर Unlimited रुपए निवेश कर सकते हैं. इसमें व्यक्ति अपनी इच्छानुसार 1 वर्ष 2 वर्ष या उससे अधिक समय के लिए निवेश कर सकता है.

तिमाही ब्याज देगा पोस्ट ऑफिस 

निवेश की गई इस राशि पर पोस्ट ऑफिस तिमाही ब्याज भी देता है, साथ ही आपके खाते में जमा किए गए पैसो में से 50% अमाउंट आप लोन के रूप में भी ले सकते हैं. साथ ही इस योजना के तहत Post Office से आप Loan ले सकते हैं और जितना अपने लोन लिया है उसे आप 12 किस्तों में जमा करवा सकते हैं .

10 साल तक करना होगा योजना में निवेश 

यदि आप रेकरिंग डिपाजिट योजना के तहत प्रत्येक महीना 16000 रुपए करवाते हैं, तो आप इस तरह सालाना 1,92,000 जमा कर लेते है. और इसके बाद इस योजना के मैच्योर होने पर 6,82,359 रूपये मिलते है, और 10 साल पूरे हो जाने के बाद आपको 26,02,359 से भी अधिक रुपए मिलेंगे.

Author Shweta Devi

मेरा नाम श्वेता है. मैं हरियाणा के भिवानी जिले की निवासी हूं. मैंने D.Ed और स्नातक तक की पढ़ाई पूरी कर ली है. वर्तमान में मै Khabri Express पर बतौर लेखक के रूप में कार्य कर रही हूं. मै सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीम, एजुकेशन और लाइफ स्टाइल से जुड़े विभिन्न कंटेंट जितनी जल्द हो सके पाठको तक पहुंचाने की कोशिश करती हूँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button