Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
New Delhi

वाहन चालक तुरंत निपटा लें ये काम, 60 रूपए के चक्कर में खानी पड़ सकती है जेल की हवा

इस न्यूज़ को शेयर करे:

नई दिल्ली :- देश की सड़कों पर इतना अधिक ट्रैफिक होने के कारण, यातायात अधिकारियों को अक्सर कानून व्यवस्था बनाए रखने में भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. वाहन चलाते समय हमारा ट्रैफिक Rules को फॉलो करना होता है.पर आपको इसके साथ ही कुछ जरूरी दस्तावेज भी अपने पास रखने होते हैं. इससे दुर्घटना होने की संभावना कम बनती है. कई नए वाहन चालक इन नियमों से अनजान हैं, जबकि अन्य वाहन Driver दूसरों की सुरक्षा के बारे में सोचे बिना कानूनों का उल्लंघन करते हैं. परंतु ऐसा ही एक ट्रैफिक नियम आपको 100 रुपये की लापरवाही के लिए जेल में डाल सकता है. इतना ही नहीं आपका ड्राइविंग लाइसेंस भी रद्द किया जा सकता है.

ये Certificate नहीं, तो आपको होगी जेल

कार-बाइक और अन्य वाहन चलाते समय आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस, बीमा, आरसी के अलावा एक और प्रमाण पत्र होना आवश्यक है. यदि आपके पास ये सर्टिफिकेट नहीं है तो आप पर सबसे ज्यादा Fine लगता है. दिल्ली में वैध पीयूसी प्रमाण पत्र के अभाव में मोटर वाहन अधिनियम, 1993 की धारा 190(2) के तहत चालान काटा जा सकता है. पकड़े जाने पर उसे 10,000 रुपये तक का जुर्माना या छह महीने के लिए जेल भेजा जा सकता है. इसके लिए आपको एक Certificate जारी किया जाता है, जिसे ट्रैफिक पुलिस कभी भी मांग सकती है. इस सर्टिफिकेट को बनाने में सिर्फ 60 से 100 रुपये का खर्च आता है,यह एक पीयूसी प्रमाणपत्र है.

PUC सर्टिफिकेट 

इस सर्टिफिकेट के अंदर ये लिखित होता है आपका वहां प्रदूषण नियंत्रण है. इस बात की स्वीकृति है कि आपके वाहन से निकलने वाला धुआं प्रदूषण मानदंडों के अनुसार है. मोटर वाहन अधिनियम के अनुसार, बीमा पॉलिसी, पंजीकरण प्रमाण पत्र और ड्राइविंग लाइसेंस की तरह, ड्राइविंग करते समय एक PUC प्रमाणपत्र अनिवार्य है.

Jyoti Pandey

मेरा नाम ज्योति पांडेय है. मैं Khabri Express पर बतौर कंटेंट राइटर काम करती हूं. मैं हिंदी पत्रकारिता की 3rd Year दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा हूं. मैंने कंटेंट राइटर का काम विभिन्न वेबसाइट पर किया है, जैसे - हरियाणा प्रेस, नव जगत , ड्रीम न्यूज 24. साथ ही मैने इंडिया न्यूज में इंटर्नशिप भी की है. मुझमें सबसे बड़ी खूबी है, मैं सीखने के लिए हमेशा अग्रसर रहती हूं. मैं अपने काम को लेकर ईमानदार और समयनिष्ठ हूं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button