Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Chandigarh

अब स्कूलों और अस्पतालों के पास गाड़ी इस गति से चलानी होगी, स्पीड लिमिट के लिए नए नियम जारी

इस न्यूज़ को शेयर करे:

चंडीगढ़ :- रोजाना हमें रोड दुर्घटना में हुए हादसे सुनने को मिलते है और ये बढ़ती आबादी के साथ बढ़ते ही जा रहे है. ऐसे में चंडीगढ़ प्रशासन ने एक अहम फैसला लिया है. आपको वाहन चलाते समय वाहन के स्पीडो मीटर का विशेष ध्यान रखना होगा. Drivers को स्कूलों और अस्पतालों के पास स्पीड लिमिट आधी करनी होगी. इन जगहों पर वाहनों की अधिकतम गति 30 किलोमीटर प्रति घंटा रखनी होगी. यदि इससे अधिक हुई तो चालान का भुगतान करना पड़ेगा.

दुर्घटनाओं पर होगी रोकथाम

ये Changes स्कूलों और अस्पतालों के सामने से गुजरने वाले राहगीरों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है. Speed Limit के इस प्रस्ताव पर प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित की अनुमति भी दे दी है. अब इसकी अधिसूचना जारी की जानी है. इसके जारी होते ही शहर में यह नया नियम लागू कर दिया जाएगा. अभी तक सभी रोड पर स्पीड लिमिट एक समान है.

चंडीगढ़ ने की पहल

चंडीगढ़ पहला शहर होगा जो स्पीड लिमिट को लेकर इस तरह का बदलाव करने जा रहा है. गति सीमा का यह नया नियम स्कूल और अस्पताल के 100 मीटर के दायरे में लागू होगा. यानी चालक को स्कूल और अस्पताल के इस दायरे में गति सीमा 25 से 30 किलोमीटर प्रति घंटा रखनी होगी. इससे अधिक होने पर Motor Vehicle Act के तहत कार्रवाई की जाएगी. चंडीगढ़ में ऐसा पहली बार हो रहा है जब ऐसे संस्थान के लिए Speed Limit तय की जाएगी. यह अस्पतालों के पास होरान न बजाने और स्कूल की निर्धारित सीमा के भीतर बीड़ी सिगरेट, शराब और तंबाकू बेचने पर रोक के समान है.

इतना लगेगा जुर्माना

लोगों द्वारा कानूनों का पालन न होना दुर्घटना का सबसे बड़ा कारण है पर अब प्रशासन इसको और ढील नहीं देंगी. हर तरफ सीसीटीवी कैमरे की सुविधा है. लाल बत्ती कूदने पर 1000 रुपये का चालान व ड्राइविंग लाइसेंस निलंबित, पहली बार में एक हजार रुपए, दूसरी बार में दो हजार और तीसरी बार में 5 हजार रुपए Overspeed का चालान किया जाता है. इसके बाद चालान पर Driving Licence Cancel कर दिया जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button