Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Chandigarh

हुड्डा सरकार ने 2011 मे 124 और 2014 में बंद किए थे 385 सरकारी स्कूल, बीजेपी सरकार केवल कर रही है मर्ज

इस न्यूज़ को शेयर करे:

चंडीगढ़ :- हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बताया कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार ने अपनी ही सरकार की सिफारिश पर विद्यालय बंद कर दिए थे. कंवर पाल ने ये बात प्रतिपक्ष नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बयान का जवाब देते हुए कहीं. शिक्षा मंत्री ने ये भी बताया कि हमारी सरकार ने स्कूल बंद नहीं करने का निर्णय लिया हैं, लेकिन छात्र संख्या कम होने के कारण कुछ स्कूलों को मर्ज जरूर कर दिया गया है. आइए चलिए जानते है शिक्षा मंत्री ने किया किन- किन व्यवस्थाओं का प्रावधान…

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कितने स्कूल किए थे बंद ?

हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार ने 2011 में 124 Primary School और 2014 में 385 Primary School बंद कर दिए थे. भूपेंद्र सिंह ने ये फैसला अपनी सरकार की सिफारिश पर लिया था. शिक्षा मंत्री ने कहा हालांकि, हमने ऐसा कुछ नहीं किया और स्कूलों को बंद नहीं होने दिया, क्योंकि इससे छात्रों की पढ़ाई पर बुरा असर पड़ सकता था.

शिक्षा मंत्री ने साझा की जानकारी

जिन स्कूलों को मर्ज किया गया है उन्हें 3 Km के दायरे में पास के स्कूल में शिफ्ट कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार में छात्रों के हित के लिए स्कूल खोले जा रहे हैं और जरूरत के मुताबिक Upgrade भी किए जा रहे हैं. कंवर पाल ने कहा कि जिन स्कूलों में छात्रों की संख्या ज्यादा है और लगातार बढ़ती जा रही है, वहां शिक्षकों की नियुक्ति की जा रही है और जल्द ही रिक्त पदों पर नए शिक्षकों की भर्ती की जाएगी.

स्कूली शिक्षा में हुआ सुधार 

शिक्षा मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने स्कूलों में शिक्षा के स्तर में सुधार किया है, जिसके तहत अब तक 138 स्कूलों को Model Culture स्कूलों में अपग्रेड किया जा चुका है. इसके साथ ही Government Schools के छात्रों को भी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार किया जा रहा है. इससे छात्रों में खुशियों की लहर दिखाई दी है.

Free Coaching की मिलेगी सुविधा

छात्रों के विकास के लिए और उनके उन्नत भविष्य के लिए सरकार के द्वारा बुनियाद और सुपर-100 जैसी योजनाएं चलाई जा रही है. जिसमें शिक्षा विभाग की ओर से बच्चों को Free Coaching की सुविधा दी जाएगी. उन्होंने कहा आज हमारे सरकारी स्कूलों के छात्र भी IIT में प्रवेश ले पा रहे हैं, यह हमारी उन्नत शिक्षा का परिणाम है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button