Join Telegram Group Join Now
Join WhatsApp Group Join Now
Chandigarh

भारत माला योजना के तहत यूपी और हरियाणा को जोड़ेगा एक और सिक्‍सलेन, इन 56 गांवों की जमीन का होगा अधिग्रहण

इस न्यूज़ को शेयर करे:

चंडीगढ़ :- केंद्र सरकार के एक और महत्वाकांक्षी परियोजना में शामिल किया गया. Ring Road के बाद अब भारतमाला योजना के तहत 6 लेन का Green Field Corridor Project शुरू होने जा रहा है. उत्तर प्रदेश को सीधे ट्राईसिटी यानी Chandigarh से सीधे जोड़ने की योजना है. शामली से अंबाला तक के करीब 110 किलोमीटर लंबे National Highway का निर्माण होना है. इसमें Ambala के साहा, बराड़ा, मुलाना, कैंट क्षेत्र के 56 गांवों के खेतों में नया National highway निकलेगा.

हाईवे निर्माण पर करीब 4 हजार करोड़ खर्च

2024 तक इस Project को पूरा करने के लिए अब युद्धस्तर पर तैयारियां शुरू हो गई है. National Highway Authority of India हरियाणा के लाडवा, जगाधरी, रादौर, सरस्वतीनगर, इंद्री तहसील क्षेत्र से होकर 6 लेन नेशनल हाईवे निर्माण पर करीब 4 हजार करोड़ खर्च करेगा. हाईवे निर्माण से पहले डिटेल Project Report तैयार करने के लिए तकनीकी अथारिटी के अधिकारियों के साथ जमीन को अधिग्रहित करने के लिए अंबाला, यमुनानगर, करनाल और कुरुक्षेत्र में लैंड मजिस्ट्रेट की भी जिम्मेदारी तय की है. शामली से अंबाला पहुंचने वाला Six Way यह परियोजना रिंग रोड में आकर मिलेगी.

दो राज्यों की यूटीलिटी टीम गठित

National Highway Authority Of India ने इस प्रोजेक्ट के बीच में पड़ने वाले वन विभाग, Electricity Corporation सहित अन्य सरकारी विभाग को पत्र लिखकर उनकी सरकारी संपत्तियों का ब्यौरा मांगते हुए यूटीलिटी टीम गठित की है. परियोजना के रस्ते में आ रहे इन विभागों की सूक्ष्म व बड़ी इकाई को दूसरे स्थान पर शिफ्ट करने में आने वाली लागत का पता चल सके. वन विभाग को बताना है कि इस परियोजना को शुरू करने से पहले कितने पेड़ काटे जाने है और बिजली निगम को यह सूचना देनी है कि उनके कितने बिजली के पोल बीच में है.

अंबाला के इन गांवों में निकलेगा Highway

Ambala City के सद्दाेपुर, पंजोखरा, अंबाला छावनी के रामगढ़ उर्फ शरीफपुर, रतनहेड़ी, पिलखनी, कपूरी, भीलपुरा, खुड्डी, साहा के मिट्ठापुर, समलेहड़ी, तेपला, हरियोली, हरड़ा, रामपुर, घसीटपुर, टोबा, हेमा माजरा, पपलौथा, कालपी, नौहनी, मौजगढ़, राजौली, केसरी, छापरा, शेरगढ़, हरड़ी, अकबरपुरा, धुराला, फुलेलमाजरा, खारूखेड़ा, बराड़ा के अलावलपुर, फोक्सा, मनू माजरा,पपलौथा, कालपी, नौहनी, मौजगढ़, राजौली, केसरी, छापरा, शेरगढ़, हरड़ी, अकबरपुरा, धुराला, फुलेलमाजरा, खारूखेड़ा, बराड़ा के अलावलपुर, फोक्सा, मनू माजरा, तलरेडी रंगरान, थंबड़, कामस, अधोया हिंदवान, कंबासी, तंदवाली, अधोया मुसलमान, अधोई, दहिया माजरा, बराड़ा के सज्जन माजरी, दादुपुर, चहल माजरा, सरकपुर, रजौली, राजोखेड़ी, तंदवाल, पट्टी बखेरू और घेलड़ी villages की खेतों से होकर Highway बनेगा.

गंतव्य तक का ही लगेगा टैक्स

6 लेन नेशनल हाईवे को दुर्घटना से मुक्त बनाए जाने के लिए इस पर चलने वाले वाहनों को शुरुआत से Destination तक के टोल टैक्स वहन करना होगा. इससे वाहन में सवार लोगों पर पूरे Highway का Toll Tax देने से राहत मिलेगी.

4 स्थान होंगे वेसाइड एमिनिटी

110 किलोमीटर लंबे छह मार्गीय नेशनल हाईवे पर सिर्फ चार स्थान पर ही Wayside Amenity बनाया जाएगा. यहां पर पेट्रोल, सीएनजी पंप, रेस्टोरेंट और Toilet बनाया जाएगा. इसका मतलब हाईवे पर चलने वाले वाहनों में सवार लोग इस सुविद्या प्रयोग कर सकेंगे और शौचालय की सुविधा फ्री होगी. जबकि अन्य सुविधाओं के लिए निर्धारित दर का भुगतान करना होगा.

नेशनल हाईवे 44 पर कम होगा ट्रैफिक

Shamli से Ambala तक प्रस्तावित इस 6 लेन Highway का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद National Highway संख्या 44 पर वाहनों का दबाव कम होगा. अभी रोजाना HN 44 पर 25 से 35 हजार से अधिक वाहन गुजरते है. उम्मीद जताई जा रही है कि नया नेशनल हाईवे बनने के बाद इस पर वाहनों का दबाव कम होगा.

भारतमाला योजना में इस प्रोजेक्ट को शामिल किया गया है. शामली से अंबाला तक करीब 110 किलो मीटर लंबे इस नेशनल हाईवे का निर्माण कार्य 2024 तक पूरा किया जाना है, इसके लिए अब जमीन अधिग्रहण करने की तैयारी चल रही है.

Sunny Singh

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सनी सिंह है. मैं खबरी एक्सप्रेस वेबसाइट पर एडमिन टीम से हूँ. मैंने मास्स कम्युनिकेशन से MBA और दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म का कोर्स किया हुआ है. मैंने ABP न्यूज़ में भी बतौर कंटेंट राइटर काम किया है. फ़िलहाल मैं खबरी एक्सप्रेस पर आपके लिए सभी स्पेशल केटेगरी की पोस्ट लिखता हूँ. आप मेरी पोस्ट को ऐसे ही प्यार देते रहे. धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button